ओडिशा ने 30 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाया, ऐसा करने वाला पहला राज्य; सीएम की केंद्र से अपील- ट्रेन और हवाई सेवा भी शुरू न करें | ड्रग मैन्युफेक्चरर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष बोले- देश में कोरोना की एचसीक्यू दवा का 1 करोड़ गोलियों का बफर स्टॉक, दुनिया को चीन के मुकाबले भारत पर भरोसा | स्टेज के हिसाब से हटेगा लॉकडाउन - ट्रेनें चलेंगी; जिस जिले में एक भी संक्रमित होगा, वहां नहीं रुकेंगी, कोच में मिडिल बर्थ बुक नहीं होगी | कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार हर कोशिश कर रही है। बुधवार दोपहर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दो चौकाने वाले फैसले लिए। पहला- पूरे प्रदेश में एस्मा लागू कर दिया है। सरकार ने प्रदेश में एसेंशियल सर्विसेज़ मैनेजमेंट एक्ट (अत्यावश्यक सेवा अनुरक्षण कानून) तत्काल प्रभाव से लागू किया है। | मप्र: लॉकडाउन का 15वां दिन | राज्य में अब तक 313 मामले: भोपाल-इंदौर में कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा | देश में कोरोना के रोज 15 हजार टेस्ट | सुप्रीम कोर्ट का केंद्र को सुझाव- संक्रमितों की पहचान करने वाला हर टेस्ट मुफ्त हो, प्राइवेट लैब ज्यादा फीस लें तो सरकार वह पैसा चुकाए | छत्तीसगढ़ - कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए राष्ट्रपति ने छत्तीसगढ़ की तारीफ की, उपराष्ट्रपति ने कहा- वेरी गुड | छत्तीसगढ़ - एक और संक्रमित ठीक होकर घर लौटा, अब तक 10 पॉजिटिव में से 9 स्वस्थ; मुख्यमंत्री का ट्वीट- कोरोना हारेगा | भोपाल में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी/कर्मचारी और पुलिसकर्मियों के संक्रमित होने के मामले भी बढ़ रहे हैं। यहां मिले 82 मरीजों में 34 तो सिर्फ स्वास्थ्य विभाग के हैं। | भोपाल में अब तक 82 केस - कोरोना संक्रमण के 19 नए पॉजिटिव मिले, इनमें 5 स्वास्थ्यकर्मी और 7 पुलिसवाले शामिल, शहर के 63 इलाके सील | मध्‍य प्रदेश में कोरोनावायरस के केस बढ़ने के बाद इस बात के कयास लगाए जा रहे हैं कि राज्‍य में लॉकडाउन 14 अप्रैल से आगे बढ़ाया जा सकता है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इसके संकेत दिए हैं। | केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि संक्रमण दूसरी और तीसरी स्टेज के बीच पहुंच गया है। | देश में कोरोनावायरस संक्रमण के 5 हजार 20 मरीज हो गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, प्रति चार दिनों में कोरोनावायरस के मरीजों की संख्या बढ़कर दोगुनी हो रही है। | रविवार रात 9 बजते ही 9 मिनट के लिए लोगों ने अपने घरों की बत्तियां बुझाकर दीये-कैंडिल, टॉर्च या मोबाइल की लाइट से रोशनी की। | कोरोनावायरस के खिलाफ जंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर पूरे देश ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। | मध्य प्रदेश - अब 9 जिलों में कोरोना का संक्रमण; स्वास्थ्य निगम के एमडी कोरोना पॉजिटिव, छह सरकारी मेडिकल कालेजों में 319 वेंटिलेटर और 394 आईसीयू बेड तैयार | इंदौर में अब तक 1500 लोग क्वारैंटाइन, कल से आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ताओं की विशेष टीम भी सर्वे करेगी | छत्तीसगढ़: प्रदेश में कोरोना काबू में, पर दिवाली तक सोशल डिस्टेंसिंग; लाॅकडाउन का उल्लंघन अब सरकारी कार्य में बाधा माना जाएगा | भोपाल में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए व्यापारियों ने खुद 4 दिन का टोटल लॉकडाउन किया | WE STAND WITH EVERYONE FIGHTING ON THE FRONTLINES. | Lockdown means LOCKDOWN! Avoid going out unless absolutely necessary. Stay safe! | Avoid going out during the lockdown. Help break the chain of spread. | If you have any queries, reach out to your district administration or doctors! | If you have symptoms and suspect you have coronavirus - reach out to your doctor or call state helplines. | Government likely to launch Covid path-tracing app |

Samarthan's Response To Coronavirus (COVID-19)

Our Strategy

The country has faced an unprecedented disaster in form of COVID-19 (corona virus) threat for the society and economy of the country. The initial Janta curfew was imposed on the 22nd March, 2020 across the country and later on the 24th March mid-night, it was announced by the Prime Minister to completely lock down the country for 21 days. As a result, public transport viz. railways, buses, taxis etc. have come to a halt. The citizens are expected to come out of their houses only for essential requirements viz. purchase of glossary, vegetables, visits to hospitals or other emergencies. The lockdown has brought the country to a sudden halt, therefore various abnormal conditions have erupted in rural and urban areas.

Read More →
Stories from the field | Community initiatives (COVID-19)      Case Studies →
Madhya Pradesh (COVID-19)